News

परमात्मा के दिव्य अवतरण की यादगार है शिवरात्रि

प्रेस विज्ञप्ति

परमात्मा के दिव्य अवतरण की यादगार है शिवरात्रि

रायपुर, २० फरवरी: जब इस धरा पर चारों ओर अज्ञान अन्धकार छाया होता है तथा मनुष्यात्माएं काम, क्रोध, लोभ, मोह एवं अहंकार रूपी विकारों के वशीभूत हो जाती हैं। तब ऐसे अतिधर्मग्लानि के समय पर मनुष्यों को निर्विकारी और पवित्र बनाने के लिए परमात्मा शिव का दिव्य अवतरण इस धरा पर होता है। वास्तव में महाशिवरात्रि शिव के दिव्य अवतरण का ही यादगार है।

यह विचार प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित महाशिरात्रि महोत्सव में बोलते हुए क्षेत्रीय निदेशिका ब्रह्माकुमारी कमला दीदी ने व्यक्त किए। उन्होंने आगे कहा कि इस समय दुनिया में भौतिक प्रगति बहुत हुई है, लेकिन जीवन मेें सुख और शान्ति कम होती जा रही है। हम सभी चाहते हैं कि यह विश्व सुखमय बने और समाज में सद्भावना हो । लेकिन यह तभी सम्भव है जबकि मनुष्यों के मन में सभी प्राणीमात्र के लिए शुभ भावना और शुभ कामना होगी । यह बड़े ही अफसोस की बात है कि इस दुनिया में इन्जीनियर, डॉक्टर और वकील बनाने के अनगिनत विद्यालय हैं किन्तु इन्सान को अच्छा इन्सान बनाने का एक भी विद्यालय नही है।
उन्होने कहा कि यह पुनीत कर्तव्य ब्रह्मïाकुमारी संस्थान द्वारा किया जा रहा है। इस संस्थान में सिखाए जा रहे राजयोग के सतत् अभ्यास से मन की वृत्तियॉं शुद्घ होती हैं तथा सभी को आत्मिक रूप में समान दृष्टिï से देखने के परिणामस्वरूप समाज में सद्भावना की स्थापना होती है।

शिवरात्रि से सम्बन्धित रस्म-रिवाजों को स्पष्ट करते हुए उन्होंने बतलाया कि शिवलिंग पर पानी मिश्रित दूध और दही की धार टपकाने का अभिप्राय है कि हम अपनी बुद्घि का तार सतत् रूप से परमात्मा से जोड़कर रखें, बेलपत्र चढ़ाने का तात्पर्य है कि परमात्मा के प्रति समर्पित भाव रखें तथा अक, धतूरा जैसे सुगन्धहीन और काँटेदार फूल भेंट करने का रहस्य है कि अपनी बुराइयों और विकारों को जो कि कांटों की तरह दु:ख पहुँचाते हैं, परमात्मा को अर्पित कर निर्विकारी और पवित्र बनें। इसी प्रकार सिर्फ एक रात जागने से अविनाशी प्राप्ति नहीं होगी बल्कि अब तो कलियुग रूपी महारात्रि चल रही है, उसमें आत्मा को ज्ञान द्वारा जागृत करना ही सच्चा जागरण है।

प्रेषक : मीडिया प्रभाग,
प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय
रायपुर फोन: ०७७१-२२५३२५३, २२५४२५४



for media content and service news, please visit our website-
www.raipur.bk.ooo